Sports

जहीर खान की तरह ‘लंबी रेस का घोड़ा’ बनना चाहते हैं खलील अहमद

20 वर्षीय खलील भारत के लिए जूनियर वर्ल्‍डकप में खेल चुके हैं. वे अच्‍छी गति के साथ गेंदों को स्विंग कराने में माहिर हैं और बल्‍लेबाजों के लिए मुश्किल का सबब बनते हैं. गेंदबाजी के लिए इसी कौशल के कारण खब्‍बू तेज गेंदबाज खलील को भारतीय टीम में स्‍थान दिया गया है.

भारतीय क्रिकेट टीम में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज गिनती के रहे हैं. बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों की बात करें तो जहीर खान, आरपी सिंह, आशीष नेहरा और इरफान पठान जैसे गेंदबाजों का नाम ध्‍यान में आता है. इनमें से जहीर खान ने लंबे अरसे तक टीम इंडिया को अपनी सेवाएं दीं और सफलता भी अर्जित की. दूसरी आर आशीष नेहरा का करियर चोट के कारण बुरी तरह प्रभावित रहा. आरपी सिंह और इरफान पठान भारतीय टीम में आते-जाते रहे. इसमें इरफान पठान को आदर्श ऑलराउंडर की श्रेणी में रखा जा सकता है. बाएं हाथ के इन तेज गेंदबाजों के बाद बरिंदर सरा, जयदेव उनादकट और अनिकेत चौधरी ने क्रिकेट में दस्‍तक दी लेकिन ये बहुत ज्‍यादा प्रभावित करने में नाकाम रहे. बहरहाल, अब बाएं हाथ के एक नए तेज गेंदबाज ने क्रिकेट में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है. राजस्‍थान के टोंक के खलील अहमद को एशिया कप के लिए चुनी गई भारतीय क्रिकेट टीम में स्‍थान दिया गया है.

2: 20 लाख से तीन करोड़ में बिका था यह सीमर, आखिर मिला पहला मैच खेलने का मौका

20 वर्षीय खलील भारत के लिए जूनियर वर्ल्‍डकप में खेल चुके हैं. वे अच्‍छी गति के साथ गेंदों को स्विंग कराने में माहिर हैं और बल्‍लेबाजों के लिए मुश्किल का सबब बनते हैं. गेंदबाजी के लिए इसी कौशल के कारण खब्‍बू तेज गेंदबाज खलील को भारतीय टीम में स्‍थान दिया गया है. जहीर को अपना गेंदबाजी आदर्श मानने वाले खलील इसी माह प्रारंभ होने वाले एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट में रोहित शर्मा की कप्‍तानी में सीनियर क्रिकेट में अपने इंटरनेशनल करियर का आगाज कर सकते हैं. चयनकर्ताओं ने एशिया कप के लिए विराट कोहली को आराम दिया है और उनकी गैरमौजूदगी में रोहित शर्मा को कप्‍तानी की जिम्‍मेदारी सौंपी है.

Please follow and like us:
RSS
Follow by Email
Facebook
Google+
https://www.jehanabadonline.com/sports/left-arm-fast-bowler-khaleel-ahmed/
Twitter

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.